August 11, 2022

जूट बैग का व्यवसाय कैसे शुरू करे | Jute Bags Business Se Paise Kaise Kamaye

शेयर करें

नमस्कार दोस्तों ! ऑनलाइन जॉब ७१५ में आपका हार्दिक स्वागत है. हमेशा की तरह आज भी हम आपको पैसे कमाने का एक शानदार बिजनिस आईडिया बताने जा रहे हैं. आज की पोस्ट में हम आपको बतायंगे की जूट बैग का व्यवसाय कैसे शुरू करें.
सबसे पहले आपको बता दें कि जूट एक प्रमुख व्यापारिक एवं मुद्रादायीनी फसल है। विश्व के जूट उत्पादन में भारत का स्थान प्रथम आता है। इसीलिए इससे सम्बंधित कोई भी काम करना आपके लिए फायदे का सौदा हो सकता है.

जूट बैग का व्यवसाय कैसे शुरू करे | Jute Bag Busiess Kaise Shuru Kare

जैसे की हमने आपको पहले भी बताया है की हमारा देश में  जूट का उत्पादन विश्व के पहले नंबर में आता है। और हमारे देश में इसका प्रचलन पहले से चला आरा है। अगर आपको कम लागत में अपना बिज़नेस शुरू करना है तो आपके लिए जूट बैग का बिज़नेस (Jute Bags Manufacturing Business)बहुत अच्छा विकल्प रहेगा।
जब से पॉलिथीन बैन हुआ है, तब से जूट बैग की डिमांड बड़ गयी है। और यह दिन-प्रतिदिन  इस्तेमाल में आरे है। जूट एक बायोडिग्रेडेब्ल है और यह हल्के भी होते है। जूट बैग भारी तथा हल्के सामान के लिए अच्छे माने जाते है। जूट से बैग ही नही, बहुत सी चीजे बन सकती है। जैसे- योगा मेट,  कालीन,  परदे, सुतली आदि बनाई जाती है। और इसका निर्यात भी किया जाता है।

जूट बैग के लिए कच्चा माल क्या-क्या है | Jute Bag Raw Material  

जूट में लगने वाली वस्तु निम्न प्रकार की है-
लेमिनेटेड जूट फैब्रिक रोल, प्लेन जूट फैब्रिक रोल्स की जरूरत होती है। अगर आपके  आस-पास कोई मिल है तो आप यह कच्चा माल थोक में भी ला सकते है। आपको थोड़ा कम भाव में भी मिल जाएगा। आपको जीप, बक्कल, स्टिक्कर, आदि की भी जरूरत पड़ेगी। अगर  आपको उसमे और सजावट करनी है तो आप उसके लिए और सामान ला सकते है।

जूट बैग बनाने के लिए उपकरण | Jute Bag Machine

जूट बैग बनाने के लिए उपकरण निम्नलिखित है-
1. फैब्रिक कटिंग मशीन
2. हेवी ड्यूटी सिलाई मशीन
3. सामान्य सिलाई मशीन
4. प्रिंटिंग कलरिंग के लिए स्टेंसिल एक्विपमेंटस ( stencils Equipment’s)

जूट बिज़नेस की कुल लागत | Jute Bag Business Investment

जूट का बिज़नेस शुरू करने के लिए सबसे पहले सिलाई मशीन होनी चाहिए जिसकी लागत लगभग 30,000 से 55,000 हो सकती है। यह आप पर निर्भर करता है की आप कौनसी लेना पसंद करते हो और कौनसे ब्रैंड की। और आपको प्रिंटिंग कलरिंग के लिए स्टेंसिल एक्विपमेंटस, जगह(land) और कच्चा माल की भी  आवयशकता होगी। और इन  सब को मिलाकर 1लाख से 2 लाख तक का लागत लग ही जाएगा। भारत सरकार ने बीजनेस को आगे पहुचाने के लिए बैंक से ऋण लेने पर सब्सिडी दे रही है। इसलिए आप लोन लेकर अपना बिजनेस आगे तक और बड़े पैमाने तक पहुँचा सकते हो।
जूट के बैग सबसे ज्यादा चलने वाले बैग होते है और आजकल   इसी का ही इस्तेमाल किया जाता  है, चाहे कोई सब्जी लेने जाए या बाजार में शौपिंग करने। यह सब जगह इस्तेमाल में आते है।
अधिक जानकारी के लिए हमसे संपर्क करें |
हम अपने ब्लॉग OnlineJob715.com (ऑनलाइन जॉब 715) में ऐसी बहुत सी उपयोगी जानकारी पोस्ट करते रहते हैं | इसीलिए हमें फॉलो जरुर करें | हमारा फेसबुक पेज लाइक करें |
जय हिंदी जय भारत


शेयर करें

Leave a Reply

Your email address will not be published.